हम दिल से जो चाहते हैं ऐ जान तुम्हें नज़ीर अकबराबादी

हम दिल से जो चाहते हैं ऐ जान तुम्हें

बे-कल हूँ अगर न देखें एक आन तुम्हें

तुम पास बिठाओ तो ज़रा बैठें हम

मुश्किल है हमें तो और है आसान तुम्हें

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s