Is Mod Se Jaate Hain / इस मोड से जाते हैं

इस मोड़ से जाते हैं
कुछ सुस्त कदम रस्ते
कुछ तेज़ क़दम राहें

पत्थर की हवेली को
शीशे के घरौंदो में
तिनकों के नशेमन तक
इस मोड़ से जाते हैं

आंधी की तरह उड़कर
एक राह गुज़रती है
शरमाती हुई कोई
क़दमों से उतरती है
इन रेशमी राहों में
एक राह तो वो होगी
तुम तक जो पहुँचती है
इस मोड़ से जाते है

एक दूर से आती है
पास आके पलटती है
एक राह अकेली सी
रुकती है न चलती है
ये सोच के बैठी हूँ
एक राह तो वो होगी
तुम तक जो पहुँचती है
इस मोड़ से जाते है
#SuchitraSen #SanjeevKumar #Gulzar

Is Mod Se Jaate Hain Lyrics
Is mod se jaate hain
Kuchh sust kadam raste
Kuchh tez qadam raahen

Patthar ki haweli ko
Shishe ke gharaundo men
Tinakon ke nasheman tak
Is mod se jaate hain

Andhi ki tarah udkar
Ek raah guzarati hai
Sharamaati hui koi
Qadamon se utarati hai
In reshami raahon men
Ek raah to wo hogi
Tum tak jo pahunchati hai
Is mod se jaate hai

Ek dur se ati hai
Paas ake palatati hai
Ek raah akeli si
Rukati hai n chalati hai
Ye soch ke baithhi hun
Ek raah to wo hogi
Tum tak jo pahunchati hai
Is mod se jaate hai


Additional Information
गीतकार : गुलज़ार, गायक : लता – किशोर, संगीतकार : राहुल देव बर्मन, चित्रपट : आंधी (१९७५) / Lyricist : Gulzar, Singer : Lata Mangeshkar – Kishore Kumar, Music Director : Rahul Dev Burman, Movie : Aandhi (1975)

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s